No icon

लखनऊ: हाईकोर्ट ने पुलस्त तिवारी एनकाउंटर की जांच पर मांगा जवाब

हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ ने 25 हजार रुपए के इनामी बदमाश पुलस्त तिवारी के कथित पुलिस मुठभेड़ की CBCID जांच पर राज्य सरकार से जवाब मांगा है। पुलस्त तिवारी की मां ने कथित मुठभेड़ को झूठा बताते हुए प्रकरण की जांच CBCID से कराए जाने की मांग की है।

यह आदेश जस्टिस रितुराज अवस्थी व जस्टिस सरोज यादव की बेंच ने पारित किया। सर्वोदय नगर, लखनऊ निवासी पुलस्त तिवारी के कथित मुठभेड़ को झूठा बताते हुए उसकी मां ने आशियाना थाने में दो मुकदमे दर्ज कराए थे।

याचिका में इन्हीं दोनों मुकदमों की विवेचना CBCID से कराए जाने की मांग की गई है। याची का कहना है कि लखनऊ पुलिस ने दावा किया था कि आशियाना थाना क्षेत्र में 9 अगस्त 2020 की रात हुई मुठभेड़ में 25 हजार के इनामी बदमाश पुलस्त तिवारी को गिरफ्तार किया गया, जिसके दाहिने पैर में गोली लगी। जबकि उस शाम करीब साढे छह बजे दो पुलिस वाले उनके घर आए और वे पुलस्त तिवारी को अपने साथ ले गए, जिसकी CCTV रिकॉर्डिंग भी है।

Comment As:

Comment ()