No icon

‘लव जिहाद’ पर योगी सरकार की कानूनी तलवार चलना शुरू, सूबे का पहला एफआईआर बरेली में दर्ज

चौपाल न्यूज नेटवर्क 
बरेली। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार चंद रोज पहले ही लव जिहाद को लेकर अध्यादेश लाई है, जिसे राज्यपाल ने दो दिन पहले मंजूरी भी दे दी। जिसके बाद कल बरेली जनपद के देवरनिया थाने में लव जिहाद पर सूबे की पहली एफआईआर दर्ज कर ली गई। 
एफआईआर के मुताबिक एक किसान की बेटी को उवैश अहमद नामक युवक ने पहले अपने प्रेम जाल में फंसाया और फिर निकाह करने के लिये धर्म बदलने का दबाव डालने लगा। बताया जा रहा है कि पीड़िता स्कूली छात्रा है। पीड़िता के पिता ने आरोप लगाया है कि प्यार का झांसा देकर आरोपी ने उसकी बेटी पर धर्म परिवर्तन का दबाव बनाया। आरोपी ने छात्रा को लालच देकर पहले अपने प्रेम जाल में फंसाया और एक साल पहले उसका अपहरण भी कर लिया था। जिसके बाद पुलिस ने छात्रा को बरामद किया था। इसके बावजूद भी आरोपी छात्रा का पीछा करता रहा और उस पर धर्म परिवर्तन का दबाव बनाता रहा। जब इस बात की जानकारी पीड़ित छात्रा के पिता को पता चली तो उन्होंने इसकी शिकायत देवरनिया थाने में की।
बरेली पुलिस ने जबरन धर्मांतरण को लेकर देवरनिया थाने में दर्ज हुई इस पहली एफआईआर उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म परिवर्तन प्रतिषेध अधिनियम 3/5 की धारा के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पर अपनी कार्रवाई शुरू कर दी है। आरोपी के खिलाफ उत्‍तर प्रदेश विधि विरूद्ध धर्म संपर‍िवर्तन प्रति‍षेध अध‍िन‍ियम और धारा 504, 506 के तहत भी केस दर्ज कर आरोपों की जांच शुरू कर दी गई है।

Comment As:

Comment ()